सहस्त्रधारा जलप्रपात: उतराखंड राज्य की राजधानी देहरादून पर्यटकों के बीच काफी ज्यादा लोगप्रिय है जो पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। उतराखंड में कई पर्यटन स्थल है उन्ही में से एक है सहस्त्रधारा जलप्रपात। जो उतराखंड में ही नही बल्कि पुरे भारत में अपनी खुबसूरती बनाये हुए है देहरादून में सहस्त्रधारा एक प्रसिद्ध जलप्रपात है। आसपास के इलाकों से स्थानीय लोग यहां अपने दोस्तों के साथ पिकनिक का आनंद लेने आते हैं। तो आये जानते है सहस्त्रधारा जलप्रपात के बारे में।

सहस्त्रधारा जलप्रपात के बारे में जानकारी | देहरादून

सहस्त्रधारा जलप्रपात

सहस्त्रधारा का अर्थ है ‘हजारों जल स्रोत जिनमें पानी अलग-अलग धारा से बहकर एक जलप्रपात का निर्माण करता है। यह मनमोहक प्राकृतिक वातावरण, शानदार माहौल के लिए देश भर के पर्यटकों द्वारा पसंद किये जाने वाला एक शीर्ष पर्यटन स्थल है। यह उतराखंड राज्य में देहरादून जिला से लगभग 16 किलोमीटर दूर है।

इस क्षेत्र में कई छोटी प्राकृतिक नक्काशीदार गुफाएँ हैं जो बाहर से आसानी से दिखाई नहीं देती हैं, लेकिन जैसे ही इन सुरंगों में प्रवेश करेंगे तो गुफाओं की छतों पर हल्की बारिश की बौछारें पड़ने लगती हैं। छत से बहने वाली कई धाराओं के कारण, इस स्थान को सहस्राधार के नाम से भी जाना जाता है। चूना पत्थर के घटक के कारण, स्टैलेक्टाइट्स से निकलने वाले पानी में सल्फर की महत्वपूर्ण मात्रा होती है। कहा जाता है कि सल्फर वह है जो पानी को औषधीय बनाता है, और बहुत से लोग इसके उपचार प्रभावों के लिए सल्फर जल और झरने में स्नान करने के लिए सहस्त्रधारा आते हैं। सहस्त्रधारा एक मनोरंजन पार्क और मेहमानों के आनंद के लिए रोपवे के साथ परिवार या दोस्तों के साथ समय बिताने के लिए यह भव्य स्थान है।

गर्मियों के दौरान, यह पर्यटकों और स्थानीय लोगों से भरा रहता है और यहाँ आने के बाद लोग इस प्राकृतिक सुंदरता की सराहना करने से अपने आप को रोक नही पाते हैं। सहस्त्रधारा एक नहीं बल्कि हजारों झरनों का संग्रह है। ‘सहस्त्र’ और ‘धारा’ शब्द क्रमशः एक हजार और एक जलप्रपात को दर्शाते हैं। यहाँ कोई प्रवेश शुल्क नहीं होने के कारण, यह अधिक पर्यटकों को आकर्षित करता है। गाड़ी पार्किंग का शुल्क लिया जाता है।

सहस्त्रधारा में रोपवे भी है जो पहाड़ की चोटी पर एक हवादार सवारी प्रदान करता है। ऊपर से सहस्त्रधारा के विहंगम दृश्य का आनंद लिया जा सकता है। ‘जॉयलैंड वाटर पार्क’ नाम का एक वाटरपार्क एक मानव निर्मित जल मनोरंजन पार्क है जो आगंतुकों को आकर्षित करता है। पर्यटक साल भर सहस्त्रधारा का आनंद लेने आ सकते हैं।

सहस्त्रधारा हजारों झरनों के समूह को दिया गया शब्द है। उबड़-खाबड़ चट्टानों में से होकर कई छोटे-छोटे झरने बहते हैं और सभी झरने एक साथ मिलकर एक विशाल झरना बनाते हैं। इन झरनों के पानी में सल्फर होता है। पर्यटक पानी में नहाने आते हैं। सहस्त्रधारा के पानी में स्नान करने से चर्म रोग दूर होते हैं। इस प्राकृतिक जलकुंड में पुरुष, महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग सभी नहाने आते हैं।

सहस्त्रधारा जल के लाभ

भारत में प्राचीन काल से ही सहस्त्रधारा के पानी को इसके चिकित्सीय और औषधीय गुणों के लिए उपयोग किया जाता रहा है। सहस्त्रधारा पहाड़ियों में सल्फर युक्त चट्टानें पाई जाती हैं। पानी के रूप में गठित सल्फर झरने चूना पत्थर की चट्टानों से नीचे गिरते हैं। सहस्त्रधारा एक सल्फर युक्त झरना है जो सोरायसिस, एक्जिमा और गठिया जैसी त्वचा रोगों के लिए मददगार है। यह त्वचा रोगों के अलावा तंत्रिका तंत्र और नींद न आने की समस्या के लिए भी उपयोगी है।

सहस्त्रधारा में विभिन्न सुविधाएँ और शुल्क

सहस्त्रधारा के पास नहाने के लिये कपडें किराये पर मिलते है, चेंजिंग रूम एवं लॉकर्स सुविधा उपलब्ध है चेंजिंग रूम का शुल्क प्रति व्यक्ति रू.10/ और एक लॉकर्स की रू.50 है

सहस्त्रधारा- पिकनिक स्थान

देहरादून में पिकनिक क्षेत्रों में लच्छीवाला, देहरादून चिड़ियाघर, गुच्चू पानी और अन्य शामिल हैं। देहरादून में सहस्त्रधारा पिकनिक के लिए सबसे बड़ा स्थल है। झरने की भव्यता को निहारते हुए पर्यटक यहां पूरा दिन प्रकृति के बीच बिता सकते हैं।

क्योंकि पानी बहुत गहरा नहीं है, बच्चे और वयस्क दोनों आसानी से स्नान कर सकते हैं। जो तैरना नहीं जानते हैं उन लोगों के लिए रबर ट्यूब की आपूर्ति की जाती है आराम करने और इस अवसर का आनंद लेने में आपकी मदद करने के लिए आपको कई प्रकार के भोजन और पेय विकल्प मिलेंगे इसलिए किसी भी चीज़ की चिंता न करके आप इस स्थान पर मस्ती कर सकते है और खुबसूरत झरनें का लुप्त उठा सकते हैं।

सहस्त्रधारा रोपवे

रोपवे पहाड़ी स्थानों में काफी प्रचलित है, रोपवे का उपयोग पहाड़ियों की चोटी से सहस्त्रधारा का दृश्य देखने के लिए किया जाता है। आप रोपवे से सहस्त्रधारा का खुबसूरत नाजारा देख कर आनंद ले सकते है यहां 1-2 घंटे बिता सकते हैं। सहस्त्रधारा रोपवे के ऊपर और नीचे चढ़ने की लागत रु.200/- प्रति व्यक्ति। रोपवे हमें प्राकृतिक से भरे परिदृश्य, हवादार सवारी प्रदान करते हैं जो कई पर्यटकों को रोमांचकारी लगती है।

वाटर पार्क

जॉयलैंड, एक कृत्रिम जल मनोरंजन पार्क, सहस्त्रधारा में स्थित है। यह मानव निर्मित वाटर पार्क सहस्त्रधारा क्षेत्र की शोभा बढ़ाता है और आगंतुकों को इसका आनंद लेने के नए तरीके प्रदान करता है। नतीजतन, यह पिकनिक के लिए एक बढ़िया क्षेत्र है। सहस्त्रधारा मनोरंजन पार्क बच्चों और बड़ों दोनों के लिए उपयुक्त है। वाटर पार्क के झूले और जलप्रपात स्नान के आनंद को बढ़ाते हैं। जॉयलैंड पार्क में प्रवेश शुल्क लागत है जो समय-समय पर बदलती रहती है।

प्राचीन द्रोण गुफा शिव मंदिर सहस्त्रधारा

सहस्त्रधारा में महाभारत काल के प्राचीन द्रोण गुफा भगवान शिव मंदिर है प्राचीन द्रोण गुफा में द्रोणाचार्य जी ने तपस्या की थी सहस्त्रधारा के द्वार के पास ही यह मंदिर है सीढ़ियों के माध्यम से आप मंदिर तक पहुँच सकते है। गुरु द्रोणाचार्य ‘भगवान शिव’ के भक्त थे इसलिए द्रोणाचार्य गुफा में प्राचीन शिव मूर्ति है यदि आप वहां जाते हैं तो सहस्त्रधारा का आनंद लेने के साथ-साथ आप मंदिर का दर्शन कर सकते हैं और आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं।

सहस्त्रधारा जलप्रपात जाने से पहले ध्यान देने योग्य बातें

  1. कैमरे की अनुमति है।
  2. प्लास्टिक की थैलियों का उपयोग प्रतिबंधित है।
  3. पालतू जानवर की अनुमति नहीं है। तो इसे ध्यान में रखें।
  4. कोई सहस्त्रधारा प्रवेश शुल्क नहीं है।
  5. सहस्त्रधारा में मादक पेय पीना पूरी तरह से प्रतिबंधित है।
  6. मंदिर के अंदर, झरने और नदी में जूते की अनुमति नहीं है।

सहस्त्रधारा जानें का समय

सहस्त्रधारा जलप्रपात में जल स्नान प्रसिद्ध है। पर्यटक मुख्य रूप से गर्मियों के मौसम में आते हैं। तो सहस्त्रधारा जाने का सबसे अच्छा समय मार्च से जून तक है। बारिश का मौसम में सहस्त्रधारा जाने से बचें। बरसात के बाद आप ठंडी में सहस्त्रधारा की यात्रा कर सकते हैं लेकिन ठंडी में यह का वातावरण और पानी दोनों ही ठंडा रहेगा।

सहस्त्रधारा में कोई प्रवेश द्वार नहीं है जो पर्यटकों के लिए बंद या खुला रहेगा। तो आप वहां कभी भी जा सकते हैं। आप वहां सुबह जल्दी जा सकते हैं और शाम को वापस आ सकते हैं। इस जगह पर जाने का कुल समय आप पर निर्भर करता है कि आप यहां कितना समय बिताना चाहेंगे। सहस्त्रधारा के सभी प्रमुख आकर्षणों स्थलों को देखने के लिए कम से कम आपको 2-3 घंटे चाहिए होंगे।

सहस्त्रधारा वॉटरफॉल कैसे पहुंचें

सहस्त्रधारा घंटा घर से लगभग 12 किमी दूर स्थित है। आपको घंटा घर के पास परेड ग्राउंड से देहरादून से सहस्त्रधारा बस मिल जाएगी। बस का किराया लगभग रु. 25/- प्रति व्यक्ति सहस्त्रधारा के लिए। बस लगभग 20 मिनट में सहस्त्रधारा पहुंच जाएगी।

निकटतम बस स्टैंड :- देहरादून आईएसबीटी बस स्टैंड से यह 15 किमी की दूरी पर है बस स्टैंड आईएसबीटी से सहस्त्रधारा के लिए कोई सीधी बस नहीं है। तो आप प्राइवेट टैक्सी या कैब बुक करके जा सकते हैं।

निकटतम रेलवे स्टेशन :- सहस्त्रधारा रेलवे स्टेशन से 16 किमी की दूरी पर है। रेलवे स्टेशन से आपको प्राइवेट टैक्सी या कैब लेनी होगी। आप परेड ग्राउंड भी जा सकते हैं और सहस्त्रधारा सिटी बस ले सकते हैं।

निकटतम हवाई अड्डा :- जॉली ग्रांट देहरादून हवाई अड्डे से, सहस्त्रधारा लगभग 28 किमी दूर है, सहस्त्रधारा तक पहुँचने के लिए आपको टैक्सी या कैब बुक करनी होगी।

सवाल जवाब

जहाँ हम घुमने जाना चाहते है उस जगह के बारे में मन में बहुत से सवाल आते है वैसे कुछ सवाल के जवाब नीचे दिए जा रहे है जो सहस्त्रधारा जाने से पहले आप के लिए मददगार हो सकती है।

सहस्त्रधारा जलप्रपात कहाँ स्थित है?

सहस्त्रधारा जलप्रपात उत्तराखंड के देहरादून जिला में स्थित है।

सहस्त्रधारा जलप्रपात देहरादून से कितनी दूरी पर है?

सहस्त्रधारा जलप्रपात देहरादून से लगभग 16 किमी दूर है।